Posts

हिन्दी व्याकरण प्रतियोगिता

Image
श्रीकृष्णा स्कूल के विद्यार्थियों ने राज्य स्तरीय हिन्दी व्याकरण प्रतियोगिता में किया शानदार प्रर्दशन 
यद्यपि बहु नाधीषे तथापि पठ पुत्र व्याकरणम् | स्वजनो श्र्वजनो माभूत्सकलं शकलं सकृत्शकृत् || अर्थात हे पुत्र ! यदि तुम बहुत अधिक विद्वान नहीं बन पाते हो या बहुत अधिक नहीं पढ़ पाते हो , तो भी व्याकरण अवश्य पढ़ो , जिससे कि ‘स्वजन’ (अपने लोग) के स्थान पर ‘श्र्वजन’ (कुत्ता) तथा ‘सकल’ (सम्पूर्ण) के स्थान पर ‘शकल’ (टूटा हुआ) और ‘सकृत्’ (किसी समय) के स्थान पर ‘शकृत’ ( गोबर का घर) न हो जाय |
कहने का तात्पर्य यह है कि यदि व्याकरण का ज्ञान नही रहेगा तो समाज में उपहास के पात्र हो जायेंगे|
किसी भी राष्ट्र की पहचान उसके भाषा और उसके संस्कृति से होती है और पूरे विश्व में हर देश की एक अपनी भाषा और अपनी एक संस्कृति है जिसे छाव में उस देश के लोग पले बड़े होते है यदि कोई देश अपनी मूल भाषा को छोड़कर दुसरे देश की भाषा पर आश्रित होता है उसे सांस्कृतिक रूप से गुलाम माना जाता है।
हिन्दी भाषा और व्याकरण के महत्व को समझते हुए और इसकी महत्ता को अन्य तक पहुंचाने के लिए श्रीकृष्णा स्कूल महेन्द्रगढ़ के प्रांगण में राष्ट…
Image
श्रीकृष्णास्कूल महेन्द्रगढ़ में दो द्विसीय वार्षिक #खेलकूद प्रतियोगिता |Two-day annual sports competition was inauguratedat Shri Krishna School.जैसा तन वैसा मन यह कहावत जानते तो सभी हैं परन्तु जो इसका पालन करते हैं वे शारीरिक स्वास्थ्य पर भी ध्यान देते हैं। खेलों का महत्त्व और उपयोगिता आधुनिक जीवन में और भी अधिक बढ़ गयी है।खेलों से प्रतियोगिता की तथा संघर्ष की भावना सहज ही सीखी जा सकती है। सामूहिक जिम्मेदारी, सहयोग और अनुशासन की भावना का कोषागार खेलों में ही छिपा है। जो देश खेलों में अव्वल आते हैं वे विकास की दौड़ में भी अग्रणी रहते हैं। ओलम्पिक तथा राष्ट्रमंडलीय खेल स्पर्धाओं के द्वारा वसुधैव कुटुंबक्म का मंत्र प्रत्यक्ष होता हुआ देखते हैं।

इसी दिशा में अपने महत्पूर्ण कदम बढ़ा रहा है श्रीकृष्णा स्कूल महेन्द्रगढ़, अपने 19 वर्षो के सफर के दौरान राष्ट्रीय व राजकीय स्तर पर अनेक प्रतियोगिताओं को अपने नाम किया है। प्रत्येक वर्ष स्कूल के प्रांगण में वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है।
प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी दो दिवसीय वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता का शुभारंभ 28 दिसंबर को कि…

GK Quiz - 2nd Position (Held in DPS School)

Image

Seminar

Image

Student Selected in National Boxing Team

Image

One More Top Notch Performance

Image

The body is your temple. Keep it pure and clean for the soul to reside in.

Image